Var-lakshmi sadhana

Buy Var-lakshmi sadhana

वर-्लक्ष्मी साधना- हमारे शास्त्रो मे धन, वैभव, संपन्नता, समृद्धि, सुख, संपत्ति और अखंड लक्ष्मी की प्राप्ति के लिए गोपनीय वर-लक्ष्मी उपासना का उल्लेख मिलता है. जैसा कि नाम से पता चलता है वर का अर्थ है वरदान और लक्ष्मी का अर्थ है धन-संपत्ति. वरलक्ष्मी की उपासना करने वाले को तथा उनके समस्त परिवार को समस्त सुख
In stock (11 items)

$74.33

वर-्लक्ष्मी साधना- हमारे शास्त्रो मे धन, वैभव, संपन्नता, समृद्धि, सुख, संपत्ति और अखंड लक्ष्मी की प्राप्ति के लिए गोपनीय वर-लक्ष्मी उपासना का उल्लेख मिलता है. जैसा कि नाम से पता चलता है वर का अर्थ है वरदान और लक्ष्मी का अर्थ है धन-संपत्ति. वरलक्ष्मी की उपासना करने वाले को तथा उनके समस्त परिवार को समस्त सुख और संपन्नता की प्राप्ति सहज ही हो जाती है. माता महालक्ष्मी के अनेक स्वरुपो मे एक..... माता वर लक्ष्मी भगवान विष्णू की पत्नी है..... माता वर लक्ष्मी की खासियत इस बात से मानी जाती है कि भगवान शिव ने स्वयं माता पार्वती को वर लक्ष्मी के गुणो के बारे मे बताया था. ये बहुत ही जल्द अपने भक्तो पर प्रसन्न हो जाती है और वर प्रदान करती है.

वर लक्ष्मी की उपासना के अनेको लाभ है

  • माता की उपासना से स्त्रियो को सौभाग्य तथा समृद्धी की प्राप्ती होती है.
  • घर की दरिद्रता समाप्त होने लगती है
  • इस जप से धन वैभव के साथ मान संम्मान की भी प्राप्ती होती है
  • इस मंत्र जप से वैवाहिक जीवन सुखमय रहता है
  • नौकरी ब्यापार मे बढोतरी होती है
  • पारिवारिक द्वेश शांत होने लगते है
  • आर्थिक समस्या नष्ट होने लगती है.
  • जिस घर मे माता वरलक्ष्मी की उपासना होती है, उस घर मे सुख-समृद्धी हमेशा बनी रहती है

Var-lakshmi sadhana articles...

  • Siddha var-lakshmi yantra
  • Siddh var-lakshmi rosary
  • Siddha Gutika
  • Var lakshmi shrangar
  • Chirmi beads
  • Holly threads
  • Siddha asan
  • Var-lakshmi mantra
  • Var-lakshmi sadhana mathods

माता वर-लक्ष्मी साधना के कुछ गोपनीय नियम

  • माता की उपासना श्रावन पुर्णिमा के पहले शुक्रवार को किया जाता है, इसके अलावा दीपावली से या किसी भी शुक्ल पक्ष के शुक्रवार से माता वरलक्ष्मी साधना को शुरु किया जा सकता है.
  • सिर्फ शादी-शुदा महिलाये ही वरलक्ष्मी की साधना कर सकती है
  • कुंवारी लडकियो के लिये यह साधना वर्जित है
  • सिर्फ शादी-शुदा पुरुष इस मंत्र को जप सकते है

See puja/sadhana rules and regulation

See- about Diksha

See- success rules of sadhana

See- Mantra jaap rules

See- Protect yourself during sadhana/puja