BAGALAMUKHI SADHNA SHIVIR

शिवानंद दास जी के मार्गदर्शन मे

बगलामुखी साधना शिविर

BAGALAMUKHI SADHANA SHIVIR

(Sat+Sun) 26-27 NOV. 2022 at Vajreshwari near Mumbai.


मुंबई के निकट वज्रेश्वरी मे माता बगलामुखी की विशेष साधना शिविर का आयोजन होने जा रहा है ये शिविर ४० वर्षो मे 11वी बार होने जा रहा है. ये महाविद्या होने की वजह से इनकी शक्ती अत्यंत तीव्र होती है. ये चारो दिशाओ से ब्यक्ति की सुरक्षा करती है. इनकी वजह से परिवार का एक एक सदस्य सुरक्षित माना जाता है. इनकी उपासना से मनुष्य के सभी पाप बुरे कर्म नष्ट होकर कर सभी मनोकामना पूर्ण होती है. इस माता की कृपा से मनुष्य तेजी से तरक्की करता है छिपे शत्रु से सुरक्षा मिलती है. शत्रु पर तेजी से विजय प्राप्त होती है. आपका नौकरी ब्यापार सुरक्षित हो जाता है. हर तरह की नकारात्मक उर्जा, रोग, जलन, विघ्न संतोषियो से आपकी रक्षा होती है. माता की कृपा से धन की रुकावट दूर होने लगती है साथ ही हर तरह का विवाद क्लेष नष्ट होकर पारिवारिक शांती मिलनी शुरु हो जाती है.


इसमें भाग लेने के दो तरीके है एक तो शिविर मे आकर साधना में भाग ले सकते है दूसरा आप ऑनलाइन भी भाग ले सकते हैं. अगर आप भाग लेना चाहते हैं तो नीचे लिंक दिया है वहां पर फॉर्म भरकर आप शिविर मे शामिल हो सकते है


BAGALAMUKHI SADHANA SHIVIR- BOOKING


Fees- 8000/- & Online Proxy 6500/- Including Sadhana samagri (Siddha Bagalamukhi Yantra, Siddha Bagalamukhi mala, Siddha Bagalamukhi gutika, Bagalamukhi asan, Siddha Chirmi beads, Gomati chakra, siddha kaudi, Siddha Rakshasutra and more.) + Bagalamukhi Diksha by Guruji+ Room Stay with Complementary Breakfast, Lunch, Dinner. (Husband-wife 13000/-) (Pay 2000/- booking and balance pay on shivir)


Call for booking-91 7710812329/ 91 9702222903


अगर आप भाग लेना चाहते हैं तो नीचे डिस्क्रिप्शन में लिंक दिया है वहां पर फॉर्म भरकर आप इस शिविर मे शामिल हो सकते हैं

Hayagriva Madhava Diksha

Buy Hayagriva Madhava Diksha

Hayagriva Madhava Mandir is located on the Monikut mount. The current mandir construction was created by the...
In stock (11 items)

$34.06

Shri Hayagriva Madhava Diksha

Hayagriva Madhava Mandir is located on the Monikut mount. The current mandir construction was created by the King Raghudeva Narayan in 1583. In accordance with some historians the King of Pala dynasty constructed it in sixth century. It's a stone mandir and it enshrines a picture of Hayagriva Madhava. Some Buddhists consider that the Hayagriva Mahhava mandir, finest identified within the group of Hindu temples (mandir), is the place the Buddha attained Nirvana.

Hayagriva Madhava diksha benefits

  • Solving Problems
  • Removes difficulties
  • Success in tasks
  • Protection
  • Prosperity

Hayagriva Madhava diksha muhurt

  • Day: Saturday, Amavasya, Krishnapaksha trayodashi
  • Direction: South

After Hayagriva Madhava diksha we will send you Siddh Hayagriva Madhava yantra with mantra.

See puja/sadhana rules and regulation

See- about Diksha

See- success rules of sadhana

See- Mantra jaap rules

See- Protect yourself during sadhana/puja