शिवानंद दास जी के मार्ग दर्शन मे

2 DAYS KUNDALINI DHYAN SHIVIR

AT CHANDIGAD

PARASHURAM BHAVAN, SECTOR-37. CHANDIGAD. PUNJAB.

Learn practical kundalini Dhyan by "Acharya Shivanand Das ji"


जीवन मे जिसने भी अपने चक्रो को समझ लिया तो समझो सफलता की कुंजी उसके हाथ मे आ गई. इस शिविर मे इन चक्रो कोे चैतन्य करने की विधि पैक्टिकल रूप मे दीक्षा के साथ सिखाई जाती है. इस शिविर के द्वारा जहा आप अपनी आर्थिक समस्या तथा मानसिक समस्या मे लाभ प्राप्त कर सकते है, वही अध्यात्मिक क्षेत्र मे भी सफलता प्राप्त कर सकते है.

आचार्य श्री शिवानंद दास जी , जो कि पिछले ४० वर्षो से पूरे भारत मे अध्यात्मिक विषय पर यानी ध्यान- प्राणायाम-्कूंडलिनी- अस्ट्रोलोजी- पामेस्ट्री- न्युम्रोलोजी- प्राण विज्ञान- औरा रीडिंग- एस्ट्रल ट्रेवल्स- पैरा नोर्मल- हिप्नोटिझम तथा मंत्र साधना पर शिक्षा प्रदान कर रहे है.
इस शिविर मे भाग लेकर अपने जीवन को एक नई दिशा दीजिये!
FREE ENTRY! FREE ENTRY! FREE ENTRY!
CALL- 91 8652439844 for booking

Mon.-Sun. 11:00 – 21:00
mantravidya@yahoo.com
91 8652439844

Bhairav sadhana for debt

Buy Bhairav sadhana for debt

इस कलियुग मे व्यक्ति के जीवन में कर्ज एक अभिशाप की तरह है । एक बार जो व्यक्ति इस में फस गया तो फसता ही चला जाता है...
In stock (11 items)

$44

कर्ज मुक्ति के लिये भैरव साधना

इस कलियुग मे व्यक्ति के जीवन में कर्ज एक अभिशाप की तरह है । एक बार जो व्यक्ति इस में फस गया तो फसता ही चला जाता है । सूत की चिंता धीरे धीरे मष्तिष्क तके हावी होती चली जाती है जिस का असर स्वास्थ पर होना भी स्वाभिक है । प्रत्येक व्यक्ति पर ६ प्रकार का ऋण होता है । जिस में पित्र ऋण, मार्त ऋण, भूमि ऋण, गुरु ऋण और भ्राता ऋण और ऋण जिसे संसारी ऋण भी कहते है । संसारी ऋण (कर्ज) व्यक्ति की कमर तोड़ देता है । मगर हजार प्रयत्न के बाद भी व्यक्ति छुटकारा नहीं पाता तो मायूस हो के ख़ुदकुशी तक सोच लेता है । यहा एक बहुत ही सरल अनुभूत भैरव साधना प्रयोग दिया जा रहा है। इसे आप निश्चिंत होकर करे बहुत जल्द आप इस अभिशाप से मुक्त हो जायेंगे।


भैरव साधना विधि :–

शनिवार के दिन या जिस दिन रवि पुष्य योग हो या रविवार हस्त नक्षत्र हो या शुक्ल पक्ष की अष्टमी को इस साधना की शुरवात करे । वस्त्र लाल रंग की धोती पहन सकते है । माला काले हकीक की ले । दिशा दक्षिण रहेगी । भैरव यन्त्र और चित्र और हकीक माला काले रंग की । मंत्र संख्या हर रोज ११ माला २१ दिन तक जाप करना है ।


सर्वपृथम गुरु का पूजन कर आज्ञा ले और फिर भगवान श्री गणेश जी का पंचौपचार पूजन करे और संकल्प संकल्प ले के मैं गुरु (अपने गुरु का नाम) का शिष्य अपने जीवन में स्मस्थ ऋण मुक्ति के लिए यह साधना कर रहा हुं हे भैरव देव मुझे ऋण मुक्ति दे । फिर जमीन पे थोड़ा रेत बिछा के उस पर कुमकुम से त्रिकोण बनाए । उस में एक प्लेट में स्वस्तिक लिख कर उस पे लाल रंग का फूल रखे उस पे भैरव यन्त्र या भैरव चित्र की स्थापना करे । उस यन्त्र का या चित्र का पंचौपचार से पूजन करे और तेल का दिया लगाए और भोग के लिए गुड रखे जा लड्डू भी रख सकते है । मन को स्थिर रखते हुये मन ही मन ऋण मुक्ति के लिए पार्थना करे । और जप शुरू करे 12 माला जप रोज करे । इस प्रकार 21 दिन करे साधना के बाद माला, यन्त्र और जो पूजन किया है वोह समान जल प्रवाह कर दे । साधना के दौरान रविवार या मंगल वार को छोटे बच्चो को मीठा भोजन आदि जरूर कराये । शीघ्र ही कर्ज से मुक्ति मिलेगी और कारोबार में प्रगति भी होगी। ईश्वर आपकी सभी मनोकामना पूर्ण करे।


भैरव साधना मन्त्र :-
॥ ॐ ऐं क्लीं ह्रीं भं भैरवाये मम ऋणविमोचनाये महां महा धन प्रदाय क्लीं स्वाहा ॥

भैरव साधना सामग्रीः-

सिद्ध भैरव यन्त्र, सिद्ध भैरव माला, भैरव गुटिका, सिद्ध भैरव चित्र तथा संपूर्ण साधना विधी।

See puja/sadhana rules and regulation

See- about Diksha

See- success rules of sadhana

See- Mantra jaap rules

See- Protect yourself during sadhana/puja

Who can perform/get sadhana/Puja/DikshaMale above 18 years, Female above 18 years
Wear clothingRed
Puja-Sadhna DirectionSouth
Tithi MuhurthShukl Paksha Ashtami
DescriptionsBhairav sadhna articles:- siddha bhairav yantra, bhairav mala, bhairav vigrah, asan, holly threads
Havan/Ahuti10% hawan bhairav mantra
Mantra ChantingChant 11 mala daily
Puja/Sadhna21 Days
Puja time muhurthAfter 9pm
Puja/Sadhana MuhurthSaturday, Ravi Pushya Nakshatra
Loading