Mon.-Sun. 11:00 – 21:00
mantravidya@yahoo.com
91 8652439844

Nirjala ekadashi pujan

Buy Nirjala ekadashi pujan

ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी को निर्जला एकादशी कहते है इस व्रत मे पानी का पीना वर्जित है इसिलिये इस निर्जला...
In stock (11 items)

$111

निर्जला एकादशी पूजन

Nirjala ekadashi pujan/vrat date: Friday 29th may 2015

इसे पांडव एकादशी, भीम एकादशी, भीमशैयनी एकादशी के भी नाम से जाना जाता है। ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी को निर्जला एकादशी कहते है इस व्रत मे पानी का पीना वर्जित है इसिलिये इस निर्जला एकादशी कहते है। यह व्रत पर नर नारियो दोनो को करना चाहीए जलपान के निषिद्ध होने पर भी फलहार के साथ दुध लिया जा सकता है इस दिन निर्जल व्रत करते हुए शेषशायी रूप मे भगवान विष्णु की अराधना का विशेष महत्व है। वर्ष मे एक बार इस निर्जला एकादशी पूजन या निर्जला एकादशी व्रत करने से ही सभी एकादश्यो का फल मिल जाता है।

दिव्ययोगशॉप के विशिष्ठ पंडित विधि-विधान से निर्जला एकादशी पूजन संपन्न करते है। इसमे पृथम गणेश पूजन के साथ गौरी, शिव तथा कार्तिकेय की पूजा संपन्न की जाती है। तत्पश्चात निर्जला एकादशी पूजन के बाद हवन संपन्न किया जाता है। इस पूजा से मोक्ष मिलता है। मनपसंत साथी मिलता है। पति-पत्नी मे मेल बना रेहता है।

निर्जला एकादशी पूजन सामग्रीः

विष्णु आरती बुक

विष्णु गुटिका

३ गोमती चक्र

सिद्ध विष्णु फोटो

विष्णु माला

तांत्रोक्त विष्णु नारियल

निर्जला एकादशी पूजन की संपूर्ण विधि

See puja/sadhana rules and regulation

See- about Diksha

See- success rules of sadhana

See- Mantra jaap rules

See- Protect yourself during sadhana/puja

Loading